दीक्षा के संबंध मे।


#1

यदि अभी इस काल मे कोई 28 मुलगुणो का सूक्ष्म रूप से पालन करने वाले मुनि भगवन्त नही होते तो यदि किसी मुमुक्षु को दिक्षा लेनी हो तो वह कैसे लेगा?


#2

जब कोई न मुनि हो तो ,जिन प्रतिमा के समक्ष भी दीक्षा लेने का आगम उल्लेख है ।


#3

कृप्या। आगम का नामोल्लेख कर सकते है।


#4


जैन श्रमण और समीक्षा डॉ योगेश जी द्वारा लिखित ।