श्री टेकचन्द जी

कविवर श्री टेकचन्द जी के जीवन के संदर्भ में, उनका समय, दशलक्षण विधान के अतिरिक्त अन्य रचनाएं, इत्यादि कोई जानकारी हो तो कृपया बताएं

4 Likes

श्री सुदृष्टि तरंगणी भी उनके द्वारा रचित एक बहुत सुंदर ग्रंथ है।

3 Likes

टेकचन्द जी का काल- संवत 1838

2 Likes