डेढ़ गुण हानि क्या है

डेढ़ गुण हानि क्या होती है
किर्पया विस्तार से जानकारी दे

इसके अधिक स्वाध्याय हेतु गोम्मटसार कर्मकाण्ड की 5वीं गाथा में गुण-हाणी ण दिवड्ढम इस पद की विशेष व्याख्या सर्वत्र दी गई है।

जितने कर्म उदय में आकर खिर रहे हैं उससे 1/2 गुणित कर्म सत्ता में पड़े हुए हैं।

एक प्रस्तुतिकरण निम्न आशुचित्रों में देखें।

1 Like

चित्र कँहा है

2 Likes