नोकर्म के उदाहरण


अनुभव प्रकाश

स्वाध्याय में बताया गया कि नोकर्म में मकान आदि संयोग नहीं है तो यहाँ शरीरादि में और क्या लिया गया है?

1 Like

सामान्यतः शरीरादिक को नोकर्म में ही गर्भित करते है, अब स्वाध्याय में वक्ता ने किस अभिप्राय से ऐसा कहा अथवा क्या कहना चाहते थे ये वे ही बता पाएंगे…

1 Like

प्रश्न यह था कि मकान नोकर्म में नहीं आते ऐसा बताया गया। और यहाँ (शरीरादि) ऐसा लिखा तो शरीर+आदि में आदि का मतलब क्या??

समाधान भी हो गया उसमे आया कि शरीर+आदि मतलब मन ,वचन,काय इसलिए आदि कहा।