लस्सी खाने में दोष लगता है तो फिर शिखंड खाने में दोष लगेगा या नहीं?

#1

लस्सी खाने मै द्विदल खाने के समान दोष लगता है तो क्या शिखंड खाने में दोष लगता है या नहीं ? कृपया विवरण दे।

#2

हा यह अभक्ष्य है।
दही और शक्कर की मर्यादा 48 मिनिट की है।
आचार्यो ने पांच प्रकार के अभक्ष्य में नशाकारक अभक्ष्य में लिया है।
दही गुड़ का मिश्रण , कॉफी,माखन आदि को नाशकारक अभक्ष्य में आएंगे।
इसका सेवन करने के बाद जीव तत्व चिंतन , शास्त्र अभ्यास याथार्थ रूप से नही कर सकता।

Credit = pt.sachinji manglayatan

6 Likes