हे मेरे महावीरा वंदन तेरा करूँ मैं | he mere mahavira vandan karun main

dev
mahaveer
#1

हे मेरे महावीरा।
वंदन तेरा करूँ मैं।।
जन्म मरण नाशो जी।।टेक।।

चार कषाय विनाशे, स्वतः ज्ञान प्रकाशे हो…।
अनन्त चतुष्टय धारे,चार घातिया मारे हो…।।
वंदन तेरा करूँ मैं।।१।।

नाँहि शास्त्र तेरे हाथ, नाँहि कोई साथी हो…।।
नाँहि रागी मोही द्वेषी, तू ही है हे वीतरागी.
वंदन तेरा करूं मैं ।।२।।

गुणों का रत्नपिटारा, बहती अमृत धारा हो…
आनंदों की मधुर हवा, जावे भवसागर पारे हो…।।
वंदन तेरा करूँ मैं।।३।।

0 Likes