Ek sagar ka maap

#1

Ek sagar ke calculation ka varnan kya hoga?

1 Like
#2

-व्यवहार पल्य से अखंख्यात गुणा बड़ा उध्दार पल्य होता है,उध्दार पल्य से अखंख्यात गुणा बडा़ अध्दा पल्य होता है,ऐसे दश कोड़ा-कोडी़ अध्दा पल्य का एक सागर होता है।

#3






Source- प्रकाश जी छाबड़ा द्वारा तैयार की गयी अलौकिक गणित pdf से।

6 Likes