Kya chai abhakshya he?

Kya chai (tea) coffe abhakshya he??.

हाँ, चाय नशाकारक अभक्ष्य हैं।

6 Likes

नशाकारक अभक्ष्य:- ऐसे पदार्थ जो कि नशा उत्पन्न करते हैं जिनके सेवन से हित , अहित का ध्यान नहीं रहता और सूक्ष्म जीवों का अधिक घात होता है उसे नशाकारक अभक्ष्य कहते हैं।
चाय में कैफीन (नशीला पदार्थ) की मात्रा ज्यादा पाई जाती है और यह बार-बार पीने की आदत लगाती है, और यह नशाकारक भी है अतः यह पीने योग्य नहीं है। क्योंकि यह नशाकारक अभक्ष्य में आती है। इसी श्रेणी में कॉफी, बीयर, शराब आदि आती हैं। पीना ही है तो चाय का विकल्प/ काढ़ा/उकाली जो कि औषधियों से तैयार होता है स्वास्थ्य के लिए भी लाभकारी है उसका सेवन अच्छा विकल्प है।

5 Likes