करणानुयोग


Topic Replies Activity
Wikipedia website पर जैन धर्म के सिद्धांतों का criticism 1 June 18, 2019
विग्रहगतिमें समय 4 June 14, 2019
तीर्थंकर को क्षायिक समकित 3 June 13, 2019
अर्हंत भगवान की प्रतिमा दशताल प्रमाण और सभी देवों की प्रतिमा नौताल प्रमाण कैसे और क्यों? ग्रंथ के आधार पर भी समाधान करें। 2 June 12, 2019
तीन लोक के स्वरूप में मध्य लोक 1 June 9, 2019
भोग भूमि में दिन रात 8 May 30, 2019
जिनधर्म में ब्लैक होल विषय के सम्बन्ध में 6 May 28, 2019
Ek sagar ka maap 4 May 20, 2019
क्षायिक सम्यक्त्व 2 May 17, 2019
Can jeev direct come to Manusya Gati from Nigod? 3 May 11, 2019
Pehli baar nigod se jeev ka pravesh 7 May 8, 2019
अलोकाकाश संबंधी 6 May 5, 2019
असंख्यात प्रदेशी लोक आकाश में अनंतानंत पुदगल कैसे? 12 May 5, 2019
भरतक्षेत्र का क्षेत्रफल 3 May 3, 2019
अलोकाकाश संबंधित 3 May 1, 2019
सातिशय मिथ्यादृष्टि 3 April 23, 2019
समुदघात के विषय पर 7 April 18, 2019
विदेह छेत्र में सीमंधर भगवान 6 April 14, 2019
Ardhamagadhi Bhasha 31 April 13, 2019
केवलज्ञानी का केवलज्ञान कितना व्यापक है? 8 April 11, 2019
स्वाध्याय कैसे होता हैं? कब किया जाता है? कितना करना चाहिए? 2 April 7, 2019
उपघात और परघात नाम कर्म 4 April 6, 2019
पंचम काल के १०८ जीव अगले ही भव में मोक्ष जायेंगे? 3 April 6, 2019
गुणस्थान संबधी। 3 April 4, 2019
सातिशय पुण्य vs पुण्यानुबंधी पुण्य 7 March 31, 2019
पूर्व भव के संस्कार 2 March 29, 2019
विग्रह गति/ अपर्याप्त अवस्था में ज्ञान 4 March 28, 2019
उपशम श्रेणी चढ़ने वाला क्षायिक सम्यग्दृष्टि संबंधित 9 March 24, 2019
पांचवी करण लब्धि में सकाम निर्जरा कैसे? 6 February 17, 2019
अपघाति क्या है , इसका क्या स्वरूप है? 3 March 5, 2019